http://blogsiteslist.com
कुरान लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
कुरान लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

गुरुवार, 16 अगस्त 2012

भ्रम एक शीशे का घर

हम जब शरीर
नहीं होते हैं
बस मन और
शब्द होते हैं
तब लगता था
शायद ज्यादा
सुंदर और
शरीफ होते हैं
आमने सामने
होते हैं तो जल्दी
समझ में आते हैं
सायबर की
दुनियाँ में
पता नहीं कितने
कितने भ्रम
हम फैलाते हैं
पर अपनी
आदत से हम
क्योंकी बाज
नहीं आते हैं
इसलिये अपने
पैतरों में
अपने आप ही
फंस जाते हैं
इशारों इशारो
में रामायण
गीता कुरान
बाइबिल
लोगों को
ला ला कर
दिखाते हैं
मुँह खोलने
की गलती
जिस दिन
कर जाते हैं
अपने
डी एन ऎ का
फिंगरप्रिंट
पब्लिक में
ला कर
बिखरा जाते हैं
भ्रम के टूटते
ही हम वो सब
समझ जाते हैं
जिसको समझने
के लिये रोज रोज
हम यहाँ आते हैं
ऎसा भी ही नहीं
है सब कुछ
भले लोग कुछ
बबूल के पेड़ भी
अपने लिये लगाते हैं
दूसरों को आम
के ढेरियों पर
लाकर लेकिन
सुलाते हैं
सौ बातों की
एक बात अंत में
समझ जाते हैं
आखिर हम
हैं तो वो ही
जो हम वहाँ थे
वहाँ होंगे
कोई कैसे
कब तक बनेगा
बेवकूफ हमसे
यहाँ पर अगर
हम अपनी बातों
पर टाई
एक लगाते हैं
पर संस्कारों
की पैंट
पहनना ही
भूल जाते हैं ।

LinkWithin

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...