http://blogsiteslist.com
गजब की लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
गजब की लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

शनिवार, 19 अप्रैल 2014

गजब की बात है वहाँ पर तक हो रही होती है

आशा और निराशा की
नहीं हो रही होती है
शमशान घाट में जब
दुनियादारी की बात
हो रही होती है
मोह माया त्याग
करने की भावना की
जरूरत ही शायद
नहीं हो रही होती है
बदल गया है नजरिया
देखिये इस तरह कुछ
वहाँ पर अब जीने और
मरने की कोई नहीं
राहुल रावत और मोदी
की बात हो रही होती है
राम के सत्य नाम से
उलझ रही होती है
जब तक चार कंधों में
झूलते चल रही होती है
चिता में रखने तक की
सुनसानी हो रही होती है 
आग लगते ही बहुत
फुर्सत में हो रही होती है
कुछ कहने सुनने की
नहीं बच रही होती है
ये बात भी बस
एक बात ही है
आज के अखबार के
किसी पन्ने में ही
कहीं पर छप रही होती है
मरने वाले की बात
कहीं पर भी नहीं
हो रही होती है
इस बार उसकी वोट
नहीं पड़ रही होती है
जनाजों में भीड़ भी
बहुत बढ़ रही होती है
किसी के मरने की खबर
होती है कहीं पर जरूर
चुनाव पर बहस पढ़ने पर
कहीं बीच में खबर के
कहीं पर घुसी ढूंढने से
मिल रही होती है । 

LinkWithin

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...