http://blogsiteslist.com
छूट लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
छूट लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

शुक्रवार, 24 अप्रैल 2015

नासमझी के कारण ही किस्मत जाती फूट है

एक नहीं
कई कई हैं
बहुत से हैं
सबूत हैं
चलते फिरते
नजर आते हैं
असल में
ताबूत हैं
ख्वाबों में
कफन
बेचते हैं
जीवन बीमा
के दूत हैं
नाटक में
पात्र हैं
सुंदर से
देवदूत हैं
विज्ञापन में
इंसान हैं
इंसानों में
भूत हैं
बाहर से
सजने सवरने
की मन
चाही है
और खुली
छूट है
अंदर छुपी
कहीं पर
लम्बी एक
सूची है
पहली लिखी
इबारत
जिसमें
लूट सके
तो लूट है ।

चित्र साभार: pixshark.com

LinkWithin

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...