http://blogsiteslist.com
जाति लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
जाति लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

बुधवार, 12 अक्तूबर 2016

हत्यारे की जाति का डी एन ए निकाल कर लाने का एक चम्मच कटोरा आज तक कोई वैज्ञानिक क्यों नहीं ले कर आया

शहर के एक
नाले में मिला
एक कंकाल
बेकार हो गया
एक छोटी
सी ही बस
खबर बन पाया
किस जाति
का था खुद
बता ही
नहीं पाया
खुद मरा
या मारा गया
निकल कर
अभी कुछ
भी नहीं आया
किस जाति
के हत्यारे
के हाथों
मुक्ति पाया
हादसा था
या किसी ने
कुछ करवाया
समझ में
समझदारों के
जरा भी नहीं
आ पाया
बड़ी खबर
हो सकती थी
जाति जैसी
एक जरूरी
चीज हाथ में
लग सकती थी
हो नहीं पाया
लाश की जाति
और
हत्यारे की जाति
कितनी जरूरी है
जो आदमी है
वो अभी तक
नहीं समझ पाया
विज्ञान और
वैज्ञानिकों को
कोई क्यों नहीं
इतनी सी बात
समझा पाया
डी एन ए
एक आदमी
का निकाल कर
उसने कितना
बड़ा और बेकार
का लफ़ड़ा
है फैलाया
जाति का
डी एन ए
निकाल कर
लाने वाला
वैज्ञानिक
अभी तक
किसी भी
जाति का
लफ़ड़े को
सुलझाने
के लिये
आगे निकल
कर नहीं आया
‘उलूक’
कर कुछ नया
नोबेल तो
नहीं मिलेगा
देश भक्त
देश प्रेमी
लोग दे देंगे
जरूर
कुछ ना कुछ
हाथ में तेरे
बाद में मत
कहना
किसी से
इतनी सी
छोटी सी
बात को भी
नहीं बताया
समझाया ।

चित्र साभार: Clipart Kid

मंगलवार, 24 जनवरी 2012

चुनाव और आदमी का प्रतिशत

हर बार
की तरह
इस बार
भी
दिखा रहा है
आज का
अखबार भी

चुनाव की
बेला पर
जाति
समीकरण
का
समाचार भी

बिना
इसके
चुनाव
हमेशा
अधूरा रह
जाता है

आदमी का
समीकरण
इन सब
में विलीन
हो कर
खो जाता है

हर जाति
का प्रतिशत
दिखाया
गया है
आज के
अखबार में
मीडिया
भी खूब
भटकाती
रही है
इस
तरह के
समाचार में

आदमी
का प्रतिशत
आज तक
क्यों नहीं
छप पाया
किसी भी
समाचार में

कैसे
बताये कोई
जब
भेजते हैं ये
वोट देने
जातियों को
जातियों के लिये
हर सरकार में

आदमी
जिस दिन
वोट देने पर
उतर आयेगा

जाति
समीकरण
इंसानियत
की किताब
में कहीं
खो जायेगा

जीतने
हारने वाला
सिर्फ आदमी
हो जायेगा

पढे़ लिखे
लोगों का
मुंह तब बंद
हो जायेगा

आदमी का
प्रतिशत
वाकई में
उस दिन
पूरा सौ
हो जायेगा।

LinkWithin

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...